एक कार्यक्रम में, उद्धव ठाकरे ने गौरक्षकों को आतंकवादियों का सामना करने को कहा

एक कार्यक्रम में, उद्धव ठाकरे ने गौरक्षकों को आतंकवादियों का सामना करने को कहा
Publish Date:12 July 2017 02:30 PM

मुंबई: अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले के बहाने बीजेपी के साथ सत्ता में सहयोगी शिवसेना ने तीखा हमला बोला है. शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सलाह दी है कि गौरक्षकों को आतंकियों का सामना करना चाहिए. उद्धव मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे.
उद्धव ने अपने भाषण में दो टूक कहा कि गौरक्षा के नाम पर देश में ढकोसला चल रहा है. उन्होंने सवाल पूछा कि क्या धर्म और राजनीति अब एक साथ नहीं चल रही? कोई अब उस पर क्यों नहीं बोलता? या यह कहें कि अगर आतंकियों के पास असलाह न होकर गौमांस होता तो कोई आतंकी जिंदा न बचता?
देश की मौजूदा स्थिति का जिक्र करते हुए उद्धव ने कहा कि आज हम राह भटककर दिशाहीन रास्ते पर चल पड़े हैं. आगे घना अंधेरा छा रहा है. उन्होंने याद दिलाया कि पुराने दिनों में बालासाहब ने अपनी एक चेतावनी से अमरनाथ यात्रा सुराक्षित कर दी थी. तब तो कांग्रेस की सरकार थी. अब देश में हिंदुत्ववादी सरकार है. इसके बावजूद अमरनाथ यात्रियों पर हमले हो रहे हैं.
यही कहकर उद्धव नहीं रुके. हालिया अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का संदर्भ पकड़कर उन्होंने कहा कि अब जबकि सभी देश आतंक के खिलाफ लड़ने में एकजुट हो ही चुके हैं तो शायद अब अमरीकी प्रेसीडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ही अमरनाथ यात्रा की सड़क पर बंदूक ताने दिखाई दें.
 

संबंधित ख़बरें