दो लड़कियों ने रची साजिश, प्रेमियों संग भागने के लिए....

दो लड़कियों ने रची साजिश, प्रेमियों संग भागने के लिए....
Publish Date:16 July 2017 06:45 PM

प्यार परवान चढ़ा और दो लड़कियों ने प्रेमियों संग भागने की ठान ली। इसके लिए उन्होंने वो खौफनाक साजिश रची, जानकर हर कोई कहता है- शर्म आनी चाहिए। मामला पंजाब के गुरदासपुर का है। गुरदासपुर-श्री हरगोबिंदपुर सड़क पर सठियाली नहर पर सेल्फी लेते हुए दो लड़कियों के नहर में बह जाने की घटना झूठी निकली। इसकी पुष्टि खुद गुरदासपुर के एसएसपी भूपिंदर सिंह विर्क ने की। उन्होंने बताया कि सुबह सूचना मिली कि सठियाली के पास सुबह तीन लड़कियां सैर कर रही थीं। इनमें से सेल्फी लेते समय दो नहर में डूब गईं।
लड़कियों की सहेली ने भी शाम तक यही बताया कि वह लगभग 5 बजे अपनी बहन और सहेली के साथ नहर किनारे सुबह की सैर कर रही थीं। इसी दौरान उसकी बहन को सेल्फी लेने की सूझी। जैसे ही वह सेल्फी लेने लगी तो उसका पैर फिसल गया औैर वह नहर में गिर गई। उसे बचाने की कोशिश में सहेली भी नहर में गिर गई। इनमें एक बीए प्रथम वर्ष व दूसरी 12वीं की छात्रा थी।
घटना का पता चलते ही घर में कोहराम मच गया था। सूचना मिलने पर काहनुवान पुलिस स्टेशन के इंचार्ज हरजीत सिंह पुलिस पार्टी के साथ मौके पर पहुंचे तथा लड़कियों की तलाश शुरू कर दी। तहसीलदार गुरदासपुर नवतेज सिंह सोढ़ी तथा नायब तहसीलदार गुरविन्द्र सिंह भी मौके पर पहुंच गए। लड़कियों की तलाश के लिए सेना की 19 जाट सिख रेजिमेंट के जवान सहित गोताखोरों को लगा दिया।
एसएसपी ने बताया कि जब दोनों का कुछ सुराग नहीं मिला तो तीसरी लड़की से पूछताछ की। सख्ती से पूछने पर उसने खुलासा कर दिया कि यह सारा ड्रामा भागने के मकसद से रचा गया था। दोनों लड़कियां किसी से प्यार करती थीं। इसके चलते उन्होंने यह प्लान बनाया और भाग गई। जाते जाते मुझे कसम दिलाते हुए कह गईं कि परिवार वालों को कह देना कि हम डूब गई हैं।
एसएसपी भूपिंदर सिंह विर्क और काहनूवान थाना प्रभारी हरजीत सिंह का कहना है कि अभी तक पुलिस इस केस का पूरा सच सामने नहीं ला सकी है। हालांकि पुलिस का दावा है कि लड़की अब भी बार-बार अपने बयान बदल रही है, लेकिन लड़कियों की बहन से इसलिए सख्ती के साथ पूछताछ नहीं कर पा रही है, क्योंकि वह अभी नाबालिग है। वहीं बार-बार बयान बदलने पर पुलिस कानूनी राय के मुताबिक कार्रवाई करेगी।
एसएसपी ने बताया कि शुक्रवार को लापता दोनों युवतियों की तीसरी बहन भी उनके साथ नहर तक गई थी। दोनों के लापता होने के बाद उसने पुलिस को अपनी बहनों के प्रेम प्रसंग की बात भी बताई थी, लेकिन अब वह इससे इंकार कर रही है। उसका कहना है कि दोनों बहनें बेहद महत्वाकांक्षी थीं और जीवन में खुद के प्रयास से अपने पैरों पर खड़ा होना चाहती थीं। इसी मकसद से उन्होंने घर छोड़ा। यह बात भी पुलिस के गले नहीं उतर रही। 
 

संबंधित ख़बरें