मुंबई का बांद्रा-वर्ली सी-लिंक बना सुसाइड प्वाइंट

मुंबई का बांद्रा-वर्ली सी-लिंक बना सुसाइड प्वाइंट
Publish Date:10 October 2017 01:14 PM

सपनों के शहर मुंबई में सोमवार की शाम बांद्रा-वर्ली सी-लिंक से कूद कर एक शख्स ने अपनी जान दे दी. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को पानी से बाहर निकाला. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया. मृतक की पहचान नहीं हो पाई है. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. पुलिस के मुताबिक, एक शख्स सोमवार की शाम करीब 7 बजे हाजी अली से टैक्सी में लीलावती अस्पताल जाने की बात कहकर बैठा. लीलावती पहुंच कर उसने कहा कि उसे वापस हाजी अली की तरफ जाना है. टैक्सी जैसे ही बांद्रा-वर्ली सी-लिंक के बीच में पहुंची, वो पेशाब करने का बहाना बनाकर टैक्सी को रुकवाने की कोशिश करने लगा.
आखिरकार ड्राइवर ने टैक्सी रोक दिया. मृतक शख्स गाड़ी से उतरकर इधर-उधर देखा उसके बाद इसने समंदर में छलांग लगा दिया. टैक्सी ड्राइवर यह सोच कर गाड़ी में बैठा रहा कि वो पेशाब करके वापस आ जायेगा. दूसरी तरफ सीसीटीवी कंट्रोल रूम में बैठे अधिकारियों को सी लिंक पर टैक्सी रुकी हुई दिखाई दी, तो फौरन वहां आ गए. वहां पहुंचते ही उन्हें माजरा समझ में आ गया. तुरंत पुलिस और फायर ब्रिगेड को कॉल किया गया. कुछ ही देर में उस शख्स को बाहर निकाल कर अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. मरने वाले शख्स की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है. टैक्सी ड्राइवर से भी पूछताछ की जा रही है. बताते चलें कि मुंबई का बांद्रा-वर्ली सी-लिंक सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है. यहां से अक्सर लोगों के आत्महत्या करने की खबरें आती रहती हैं. इससे पहले भी एक शख्स ने वर्ली सी लिंक से कूदकर जान दे दी. 45 साल का विक्रम वासुदेव चार साल पहले अपने बेटे की मौत की वजह से डिप्रेशन में था. पिछले एक साल में यहां सुसाइड की एक दर्जन से ज्यादा घटनाएं हो चुकी हैं. सी-लिंक से ख़ुदकुशी के कई मामले सामने आए हैं. इस बारे में बॉम्बे हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका भी दायर हुई थी. इसके बाद कोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा था. इसके बाद यहां सीसीटीवी कैमरे लगाकर सुरक्षा बढ़ाई गई.

संबंधित ख़बरें