पीएम मोदी की इस यात्रा से है बिहार को काफी उम्मीदे

पीएम मोदी की इस यात्रा से है बिहार को काफी उम्मीदे
Publish Date:12 October 2017 01:30 PM

पटना: पटना यूनिवर्सिटी 14 अक्टूबर को सौ साल का होने जा रहा है। यूनिवर्सिटी शताब्दी वर्ष मना रहा है और इस मौके पर उसने अपने तमाम पुराने छात्रों को इस आयोजन में बुला रहा है लालू यादव,नीतीश कुमार,सुशील मोदी,रामविलास पासवान और रविशंकर प्रसाद जैसे कई बड़े दिग्गज इसी यूनिवर्सिटी के छात्र रह चुके हैं। इस मौके पर मुख्य अतिथि होंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। बिहार में महागठबंधन की सरकार टूटने के बाद प्रधानमंत्री का यह दूसरा दौरा है। इससे पहले पीएम बिहार 26 अगस्त को बिहार बाढ़ का जायजा लेने आए थे। इस बाढ़ में 425 लोग मारे गए थे जबकि 1.65 करोड़ जनसंख्या प्रभावित हुई थी। पीएम की इस यात्रा से बिहार को काफी उम्मीदे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहले साफ कर दिया है कि बिहार सरकार को केंद्र से काफी उम्मीदे हैं।
वैसे तो प्रधानमंत्री बिहार को क्या- क्या सौगात देंगे ये अभी तक साफ नहीं हुआ है लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि पटना विश्वविद्यालय के कार्यक्रम के अलावा पीएम गंगा सफाई के लिए चल रहे कार्यक्रम नमामी गंगे प्रोजेक्ट और रोड प्रोजेक्ट का शिलान्यास कर सकते हैं ।
गंगा वाटर पॉल्यूशन के लिए 4 एसटीपी का उद्घाटन करेंगे
प्रधानमंत्री के साथ इस मौके पर केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी भी साथ होंगे। नितिन गडकरी ने बताया कि प्रधानमंत्री 14 अक्टूबर को पटना में गंगा वाटर पॉल्यूशन के लिए 4 एसटीपी का उद्घाटन करेंगे। जिसकी लागत 738.14 करोड़ आने की उम्मीद है।  
प्रधानमंत्री के साथ केंद्र की 8 सदस्यीय टीम गुरुवार को बिहार का दौरा करेगी। बिहार सरकार ने पहले की केंद्र को 736 करोड़ रुपए का मुआवजा देने का ज्ञापन पेश कर चुका है। बिहार के 6 विभाग जिनमें रूरल वर्क्स, रोड, एग्रीकल्चर, वाटर रिसोर्सेज, एनिमल हसबेंड्री और डिसास्टर मैनेजमेंट शामिल है। 

संबंधित ख़बरें