शिक्षण संस्थानों में प्रदर्शन की अपील के बाद कश्मीर में सभी शिक्षण संस्थान बंद

शिक्षण संस्थानों में प्रदर्शन की अपील के बाद कश्मीर में सभी शिक्षण संस्थान बंद
Publish Date:12 October 2017 06:03 PM

श्रीनगर कश्मीर घाटी में चोटी काटने की घटनाओं के खिलाफ अलगाववादी नेताओं की आज विद्यार्थियों से अपने-अपने शिक्षण संस्थानों में प्रदर्शन की अपील बाद प्रशासन ने यहां के सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का फैसला किया है। कश्मीर के संभागीय आयुक्त बसीर अहमद खान ने एहतियातन आज सभी सरकारी एवं निजी स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शिक्षण संस्थानों को बंद करने के आदेश दिए । अनंतनाग, पुलवामा, बारामुला के उपायुक्तों ने भी सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने के अलग आदेश जारी किए।  कश्मीर घाटी के अधिकतर शिक्षण संस्थानों में कल से वार्षिक परीक्षा शुरू हुई थी है। वार्षिक परीक्षाओं को तय कार्यक्रम के अनुसार सोमवार से शुरू होना था, लेकिन घाटी में चोटी काटने की घटनाओं को लेकर अलगाववादी नेताओं की हड़ताल के कारण परीक्षाएं आयोजित सही समय पर नहीं हो सकी। कश्मीर यूनिवर्सिटी ने आज आदेश जारी कर सभी कक्षा कार्यों को निलंबित कर दिया है। लेकिन सभी परीक्षाएं तय कार्यक्रम के अनुसार ही आयोजित होंगी।  सैयद अली शाह गिलानी, मीरवाइज मौलवी उमर फारूक के संयुक्त प्रतिरोधी नेतृत्व (जेआरएल) और अलगाववादी नेता मोहम्मद यासीन मलिक की ओर से 14 अक्टूबर की “पोलो ग्राउंड चलो” रैली के स्थगन की घोषणा के बाद विद्यार्थियों से अपने-अपने शिक्षण संस्थानों में चोटी काटने की घटनाओं के खिलाफ प्रदर्शन करने की अपील जारी की गई है। 
 

संबंधित ख़बरें