सीएम रहे एनडी तिवारी को ब्रेन हैमरेज, अस्पताल में भर्ती

 सीएम रहे एनडी तिवारी को ब्रेन हैमरेज, अस्पताल में भर्ती
Publish Date:20 September 2017 07:53 PM

नई दिल्लीः पूर्व केंद्रीय मंत्री एन डी तिवारी को मस्तिष्काघात के बाद आज यहां के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. उनके बेटे रोहित शेखर तिवारी ने यह जानकारी दी. दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तिवारी (91) की हालत गंभीर है और उन्हें अस्पताल के सघन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में रखा गया है. सूत्रों के अनुसार डॉक्टरों की एक टीम उनकी देखभाल में लगी है. रोहित ने कहा कि उनके पिता आज सुबह यहां अपने घर पर चाय पीते समय बेहोश हो गए थे. आपको बता दें कि मार्च 2014 में नारायण दत्त तिवारी ने रोहित शेखर को अपना बेटा माना था. रोहित को अपने पिता का नाम पाने के लिए छह साल तक कानूनी लड़ाई लडऩी पड़ी थी. तमाम कानूनी दांवपेच के बाद भी तिवारी को अपना डीएनए टेस्ट कराना पड़ा था. इसमें यह साबित हो गया था कि तिवारी ही रोहित शेखर के पिता हैं. इसके बाद तिवारी ने रोहित की मां उज्जवला शर्मा से शादी भी की थी. रोहित भाजपा नेता हैं हालांकि, तिवारी ने कांग्रेस नहीं छोड़ी.
गौरतलब है कि इस समय 91 साल के एनडी तिवारी अकेले ऐसे राजनेता हैं जो दो राज्यों के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. तिवारी तीन बार उत्तर प्रदेश और एक बार उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बने थे. वह केंद्र सरकार में मंत्री और राज्यपाल भी रहे हैं. ताउम्र कांग्रेसी रहे एनडी तिवारी के सभी दलों से अच्छे संबंध माने जाते हैं और उत्तराखंड में चुनाव से ठीक पहले उनकी मौजूदगी में उनके बेटे रोहित शेखर तिवारी ने बीजेपी का दामन थामा था. तब यह अफ़वाह भी उड़ी थी कि एनडी भी बीजेपी में शामिल हो रहे हैं लेकिन एनडी कांग्रेस में ही रहे.
 

संबंधित ख़बरें